Sanjana Kirodiwal

Story With Sanjana

Category: Ranjhana

रांझणा – 61

Ranjhana – 61 Ranjhana – 61 शिवम् और सारिका को घर भेजकर मुरारी अपने कमरे की और बढ़ गया l उसका दिल गुदगुदा रहा था l मुरारी मन ही मन सोचने लगा,”दुल्हन के कपड़ो में सजी अनु सेज पर घूँघट निकाले...

रांझणा – 60

Ranjhana – 60 Ranjhana – 60 बनारस में अनु को देखकर मुरारी को तो अपनी आँखों पर विश्वास ही नहीं हुआ l वो भी इस रूप में जिसमे मुरारी सोच भी नहीं सकता था l हक्का बक्का सा मुरारी अनु को...

रांझणा – 59

Ranjhana – 59 Ranjhana – 59 शिवम के आलिंगन मे सारिका एक पल के लिए अपना सब दर्द भूल गयी l आई बाबा उनके पास आये और शिवम् से कहा,”शिवम् बहू को घर ले चलो बेटा !” शिवम् को अहसास हुआ...

रांझणा – 58

Ranjhana – 58 Ranjhana – 58 सुचना -: कहानी से पहले ये लिखना मेरे लिए जरुरी हो गया है l भाग 56 की दो बातो ने मुझे लिखने के लिए मजबूर कर दिया l पहली मेरा शिवम् को खुदगर्ज लिखना l...

रांझणा – 57

Ranjhana – 57 Ranjhana – 57 घाट से निकलकर शिवम् मुरारी के साथ बाहर चला आया। शिवम् ड्राइवर सीट पर आ बैठा और कहा,”हम चलाएंगे !”“अरे हां तुम चलाय ल्यो , पर सुनो जरा गड्डी आगे ढाबे पर रोक देना कछु...
error: Content is protected !!