कितनी मोहब्बत है – 20

Kitni mohabbat hai – 20

“कितनी मोहब्बत है”

By Sanjana Kirodiwal

Kitni mohabbat hai – 20

मीरा की वजह से अक्षत की मुस्कान वापस लौट आयी ! अक्षत मीरा के पीछे पीछे आया लेकिन मीरा राधा के पास औरतो के बिच में चली आयी ! अक्षत को मीरा से बात करनी थी इसलिए उसने इशारे से मीरा को आने को कहा लेकिन मीरा ने इग्नोर कर दिया ! अक्षत औरतो के बिच आ गया तो एक औरत ने कहा,”अरे , अरे , अरे लेडीज के बिच में कहा घुसे चले आ रहे हो ? यहाँ मर्दो का कोई काम नहीं है ! चलो बाहर चलो !”
“वो मैं”,अक्षत ने कहना चाहा तभी औरत ने अक्षत का कान पकड़ा और उसे बाहर ले जाते हुए कहा,”ये वो वो मैं मैं बाहर जाकर करो !”
मीरा हंस पड़ी बेचारा अक्षत अपना सा मुंह लेकर चला गया और बाहर जीजू के पास आकर बैठ गया ! जीजू उस वक्त फोन पर किसी से बात कर रहे थे अक्षत का लटका हुआ मुंह देखकर उन्होंने फोन कट किया और अक्षत की और पलटकर कहा,”क्या बात है मुंह क्यों लटका है ?”
“जीजू वो मीरा है न !”,अक्षत ने मासूमियत से कहा
“क्या किया मीरा ने ?”,जीजू ने पूछा
“अरे यार बहुत तंग करती है वो , उसे समझना बहुत मुश्किल है उस पर गुस्सा करो तो स्माइल करती है , प्यार से बात करो तो जवाब नहीं देती ,, सच में बहुत कॉम्प्लिकेटेड है वो ,, और आजकल तो सीधा सीधा ‘सडु’ कहकर बुलाती है वो मुझे !”,अक्षत ने थोड़ा चिढ़कर कहा !
जीजू मुस्कुराने लगे और कहा,”कॉम्प्लिकेटेड नहीं है बल्कि बहुत अच्छी है वरना तुझे झेलना कम थोड़े है , वैसे नाम अच्छा रखा है उसने तेरा – सडु , तू थोड़ा थोड़ा लगता भी वैसे ही है !”
जीजू की बात सुनकर उसे थोड़ा गुस्सा आ गया तो उसने कहा,”अच्छा दीदी को जाकर बताऊ आपके कॉलेज वाले अफेयर के बारे में , खोलू आपकी पोल !”
“अरे अरे मेरे बच्चे दिल पर मत ले , दिल से नहीं बोल रहा तुझे !”,जीजू ने मिमियाते हुए कहा !
“हम्म्म ओके ! , कितनी बोरिंग सगाई है कुछ रौनक ही नहीं है बस सब ठूसने में लगे है !”,अक्षत ने चारो और नजर दौड़ाकर कहा !
कुछ देर बाद निधि आयी और उनके पास बैठते हुए कहा,”भाई , जीजू भाभी के कजिन्स ने मस्त तैयारी की है डांस की , अपना तो पोपट हो जाएगा !
“अरे पोपट क्यों होगा ?”, जीजू ने कहा !
“अपने घर में किसको डांस आता है ? पहले पता होता तो मर तर के प्रेक्टिस कर भी लेते लेकिन एन मोके पर सब , अपनी तो नाक कट जाएगी जीजू !”,निधि ने कहा !
“नहीं कटेगी !”,अक्षत ने कुछ सोचते हुए कहा
“कैसे तुम करने वाले हो डांस उनके सामने ?’,जीजू ने पूछा
“भाई को डांस का D भी नहीं आता है , ये क्या डांस करेंगे ?”,निधि ने अक्षत का मजाक उड़ाते हुए कहा तो जीजू भी हसने लगे !
अक्षत उठा और कहा,”आप दोनों मेरे साथ हो तो दुश्मन की क्या जरूरत ? अब चलो !!”
निधि और जीजू अपनी हंसी रोकते हुए अक्षत के पीछे चल पड़े सभी अंदर हॉल में चले आये !
हॉल में सामने फ्लोर लगा था और उसके सामने कुर्सियां सोफे रखे थे ! अंगूठी पहनाने में अभी बहुत टाइम था इसलिए सभी हॉल में जमा होकर डांस देखने लगे ! अर्जुन और नीता साथ साथ सबसे आगे एक सोफे पर बैठे थे ! उनकी एक तरफ नीता के घरवाले दूसरी और अर्जुन के घर से अक्षत , जीजू , तनु , निधि और मीरा !! घर के बड़े एक तरफ और बाकि सभी मेहमान उनके पिचई पड़े सोफों पर थे ! प्रोग्राम शुरू हुआ सबसे पहले हनी ने डांस किया उसने गाना भी अपने जैसा चुना “बद्तमीज दिल” जैसे ही उसने डांस शुरू किया सारा हॉल सीटियों और तालियों से गूंज उठा !! अक्षत और जीजू भी देखते रह गए ! हनी ने इतना अच्छा डांस जो किया ! मीरा बड़े गौर से उसका डांस देख रही थी पर अक्षत को कहा बर्दास्त होने वाला था ! थोड़ी देर बाद गाना चेंज हुआ और हनी डांस करते हुए मीरा के सामने आया और अपना हाथ उसकी और बढ़ा दिया ! अब इतने लोगो के सामने भला वो हनी को कैसे ना कहती ? हनी उसे लेकर स्टेज पर जैसे ही आया उसके नीता की साइड वाले सारे लोग हूटिंग करने लगे ! अक्षत का अंदर ही अंदर ही खून जलते देखकर जीजू ने उसके हाथ पर हाथ रखा और कहा,”होता है , होता है !
मीरा बिच में खड़ी रही और हनी उसके इर्द गिर्द नाचने लगा ! हनी बड़ा स्मार्ट था उसने गाना भी कुछ ऐसा ही चुना
“जो भिड़ा तेरे नैनो से टांका , तो आशिक़ सरेंडर हुआ
तूने इंग्लिश में जब मुझको डांटा , तो आशिक़ सरेंडर हुआ !!
अक्षत ने जैसे ही गाना सूना अपना सर पिट लिया ! वो जो हल्की फुलकी जलने की भावना होती है ना अपना अक्षत भी इस वक्त उसी से घिरा हुआ था ! मीरा वापस आकर बैठ गयी !! हनी के बाद में नीता की एक दोस्त ने डांस किया जैसा की निधि ने कहा था उसकी भी तैयारी जबरदस्त थी ! निधि ने अक्षत को कोहनी मारकर कहा,”कुछ तो करो वरना लोग हसेंगे हम पर ! जैसे ही नीता की दोस्त स्टेज से निचे आयी अक्षत माइक लेकर आ गया और कहने लगा “मेरे प्यारे भाई और होने वाली भाभी की सगाई पर मैं उन्हें सरप्राइज देना चाहता हु !! आज इन दोनों के लिए हम सबकी प्यारी सी दोस्त , और भैया की खास दोस्त मीरा उनके लिए डांस प्रेजेंट करेगी !”
अक्षत ने जैसे ही कहा मीरा के होश उड़ गए उसने तो ऐसे किसी सरप्राइज के लिए नहीं बोला था ! अर्जुन बहुत खुश था की मीरा ने उसके लिए सरप्राइज रखा है सभी मीरा के लिए तालियां बजाने लगे ! हनी तो कुछ ज्यादा ही एक्साइटेड था ! मीरा के चेहरे का उड़ा रंग देखकर अक्षत ने कहा,”आओ मीरा !!
बेचारी मीरा उठी और धीरे धीरे चलके स्टेज पर आयी इतने लोगो के सामने वह अपना मजाक बनते देखना नहीं चाहती थी ! उसने अक्षत के हाथ से माइक लिया और कहा,”हम प्रेजेंट करेंगे बस 5 मिनिट चाहिए !”
मीरा ने अक्षत का हाथ पकड़ा और उसे स्टेज के पीछे ले जाकर कहा,”क्या है ये सब ? हमने कब कहा था हम ऐसा कुछ करेंगे ? आपने सबके सामने झूठ क्यों कहा ? ! मीरा को परेशान देखकर अक्षत मुस्कुराने लगा तो मीरा ने झुंझलाकर कहा,”मुस्कुरा क्यों रहे है ? जवाब दीजिये बाहर झूठ क्यों कहा आपने ? अक्षत ने अपने दोनों हाथ बांधे और सधी हुई आवाज में कहा,”बदला मीरा जी , तुमने मेरी बात नहीं सुनी तो बदले में थोड़ा सा झूठ कहा ! पनिशमेंट !!
“ऐसे पनिशमेंट कौन देता है ? छोड़ेंगे नहीं आपको !”,कहते हुए मीरा गुस्से से वहा से चली गयी !!
“मैं तो चाहता हु तुम मुझे कभी ना छोडो !”,अक्षत ने धीरे से कहा और बाहर आकर बैठ गया !! मीरा स्टेज पर थी स्पीकर में जैसे ही गाना बजा मीरा ने डांस करना शुरू किया ! गाना भी बहुत प्यारा बज रहा था – बोले चूंडिया , बोले कंगना ! हाय मैं हो गयी तेरी साजना !
तेरे बिन दिल नईयो लगदा , मैं ते मर गयी या !!
मीरा ने जैसे ही डांस शुरू किया अक्षत का मुंह खुला का खुला और आँखे मीरा पर जम सी गयी ! जीजू उठे और मीरा के लिए सिटी बजायी यही हाल नीता के सभी कजिन्स का था ! मीरा का डांस और उसके एक्सप्रेशन इतने सही थे की सब बस उसे देखते ही रह गए ! हनी का तो दिल ही बाहर आ गिरा !! जीजू अक्षत की चालाकी समझ गए थे उन्होंने अक्षत का हाथ पकड़ा और उसे स्टेज तक छोड़कर आये और कहा,”तुम्हारे भाई की सगाई है , कुछ तो बनता है !” मीरा को फ़साने की सोचने वाला अक्षत खुद फंस गया था मीरा बिना उसकी और देखे अपने डांस में व्यस्त थी ! अक्षत को आज से पहले डांस करते हुए किसी ने नहीं देखा था !
अक्षत ने स्टेज पर आकर मीरा के साथ जैसे ही डांस किया सभी हैरान थे ! अक्षत बहुत अच्छा डांस करता था निधि तो ख़ुशी से उछल पड़ी थी ! मीरा के लिए वो 5 मिनिट बहुत खूबसूरत थे !! डांस करने के बाद दोनों निचे आये तो निधि ने तो मीरा को गले ही लगा लिया और फिर नीता के कजिन्स को अंगूठा दिखा दिया ! नीता के कजिन्स ने भी मान लिया की अक्षत और मीरा का डांस ही सबसे बेस्ट था !! हनी उठकर आया और निधि से कहा,”डोंट वरी शादी में तुम्हे हम अंगूठा दिखाएंगे !”
“देखेंगे !”,निधि ने इतराते हुए कहा और चली गयी !
निधि की इस अदा पर हनी मुस्कुराये बिना नहीं रह सका !! उसके बाद सबने मिलकर डांस किया लेकिन हनी की नजरे अब मीरा से हटकर बार बार निधि पर चली जाती !! अर्जुन और नीता ने भी डांस किया ! डांस के बाद सगाई की रस्म शुरू हुई मीरा जैसे ही जाने लगी अक्षत ने कहा,”मुझे तुमसे कुछ कहना है !” मीरा ने अक्षत को साइड किया और कहा,”हमे आपसे कोई बात नहीं करनी !”
अक्षत ने उसका हाथ पकड़ा और खींचते हुए कोने में लेकर आया और धीरे से कहा,”मुझे भी कोई शौक नहीं है , वो तो बस तुम्हारी कुर्ती के पीछे का हुक खुला हुआ सब दिख रहा है तो अच्छा नहीं लग रहा !” मीरा ने जल्दी से पीछे हाथ लगाकर देखा अक्षत सच कह रहा था !! मीरा ने दोनों हाथ पीछे करके बंद करने की कोशिश की लेकिन नहीं कर पा रही थी अक्षत ने उसे परेशान होते देखा तो कहा,”मैं कर दू !”
मीरा ने घुरा तो अक्षत ने साइड में देखते हुए कहा,”इंटेशन सही है मेरी , हेल्प का सोचकर बोल रहा हु !”
मीरा पलट गयी अक्षत की उंगलियों ने जैसे ही उसकी पीठ को छुआ मीरा की आँखे बंद हो गयी एक सिहरन सी उसके बदन में दौड़ गयी ! अक्षत ने हुक लगाया और चला गया ! मीरा भी वहा से चली आयी ! सभी हॉल में जमा थे शुभ घडी में अर्जुन और नीता ने एक दूसरे को अंगूठी पहनाई और दोनों एक प्यारे से रिश्ते में बंध गए ! इस बिच मोना का ख्याल किसी को नहीं आया ! सभी खाना खाने बैठे जीजू , तनु , निधि , काव्या , अक्षत और मीरा एक ही टेबल के इर्दगिर्द बैठे थे !
नीता और अर्जुन , नीता के बाकि कजिन्स के साथ बैठे थे !!
“आज तो मीरा और अक्षत ने कमाल ही कर दिया !”,जीजू ने कहा
“भई मानना पडेगा , और कितना टेलेंट छुपा रखा है अपने अंदर ?”,तनु ने भी खाते हुए कहा
“आखिर दोस्त किसकी है ?”,निधि ने कहा
“ये लो इसमें तुम्हारा क्रेडिट कहां से आ गया भई ?”,जीजू ने कहा
“अरे मैं इसकी दोस्त ना होती तो ये कैसे मिलती आप सबसे ? और फिर कैसे पता चलता की मीरा में इतना टेलेंट है ? बोलो बोलो”,निधि ने बच्चो की तरह कहा !
“फिर तो तुम्हारा क्रेडिट बनता है !”,जीजू ने कहा !
मीरा ख़ामोशी से अपना खाना खा रही थी कुछ देर बाद जीजू के फोन पर एक मेसेज आया तो वो पढ़कर मुस्कुराने लगे ! उन्हें मुस्कुराता देखकर तनु ने कहा,”क्या पढ़ लिया ऐसा ? जरा हमे भी सूना दो !!”
“सुनो सुनो एक बहुत शानदार चीज आयी है !”,जीजू ने एक्साइटेड होकर कहा और फिर कहने लगे,”जिसकी हथेली के बीचोबीच तिल है वो बहुत खर्चीला होता है !”
“जैसे की तनु दी , इनके हाथ के बीचोबीच तिल है ,, है ना दी ?”,निधि ने चहकते हुए कहा
“हां है !”,तनु ने कहा
“फिर तो भैया सच ही है , हमारी तनु बहुत खर्चा करती है !”,जीजू ने कहा तो सभी हसने लगे ! निधि को इसमें बहुत मजा आ रहा था उसने कहा,”जीजू और बताईये ना !”
“हां सुनो , जिसके पेट पर तिल होता है वो खाने का बड़ा शौकीन होता है !”,जीजू ने कहा तो तनु बोल पड़ी,”और ये बात आपसे बेहतर कौन जान सकता है ?” ! जीजू मुस्कुराने लगे क्योकि उन्हें पता था उनके पेट पर तिल था !! जीजू ने आगे पढ़ना शुरू किया जिसके अंगूठे की बीचोबीच तिल होता है उसकी लव मैरिज होगी !”
जैसे ही जीजू ने कहा निधि ने मुस्कुराने लगी ! तनु ने देखा तो पूछा,”तुझे क्या हुआ ? तू क्यों शरमा रही है ?”
निधि ने अपना अंगूठा आगे कर दिया उसके अंगूठे के बीचो बिच तिल था ! जीजू ने देखा तो कहा,”निधि भगवान के घर देर है अंधेर नहीं , जल्दी ही तुम्हे भी तुम्हारे सपनो का राजकुमार मिल जाएगा !!” निधि शर्माने लगी तो जीजू ने कहा,”ये सुनो जिस इंसान के गर्दन के दांयी और तिल होता है वो बहुत रोमांटिक होता है !”
जैसे ही जीजू ने ये कहा तनु और निधि ने अक्षत की तरफ देखा और कहा,”अक्षत और रोमांटिक , इम्पॉसिबल !”
अक्षत की गर्दन पर तिल था तो अक्षत ने कहा,”ये गलत हो गया जीजू !!
“क्या पता साले साहब आगे चलकर हो जाये आप , रोमांटिक !!”,आखरी शब्द रोमांटिक पर जीजू ने थोड़ा जोर देकर कहा जिस से मीरा को हंसी आ गयी लेकिन उसने रोक ली और निचे गर्दन करके खाने लगी ! जीजू ने कहा,”अब ये लास्ट सुनो जिसकी पीठ पर तिल होता है , वो बहुत शांत स्वाभाव के होते है
“जैसे की मीरा , इसकी गर्दन से टेन इंच निचे एक तिल है !”,अक्षत ने खाते हुए कहा !
सबने हैरानी से अक्षत की और देखा , मीरा की पीठ पर तिल है ये बात अक्षत को कैसे मालूम सोचकर सभी हैरान थे ! निधि ने तो उठकर देख भी लिया और हुक से जस्ट ऊपर एक तिल था जो दूर से नजर नहीं आता बहुत करीब से देखने पर पता चलता है ! निधि ने देखते ही कहा,”भाई सही कह रहे है मीरा की पीठ पर तिल है , आपकी तो सारी बाते सच हो गयी जीजू !!”
जीजू और तनु दोनों ने ही अपना सर पिट लिया ! निधि को पता नहीं था की कोनसी बात सबके सामने कहनी होती है और कोनसी नहीं ? लेकिन निधि के मुंह से ये सब सुनकर अक्षत खांसने लगा ! उसे महसूस हुआ की अनजाने में वो कुछ ऐसा कह गया जो नहीं कहना था ! उसे खांसता देखकर तनु ने पानी का ग्लास उसकी और बढ़ाया और कहा,”तुम कबसे ये सब देखने लगे अक्षत !”
“जीजू आपकी प्लेट में सलाद नहीं है , मैं लेकर आता हु !”,कहते हुए अक्षत उठा और चला गया ! उसने तनु की बात का जवाब नहीं दिया , मीरा ने डरते डरते कहा,”जीजू दी आप लोग गलत मत समझियेगा , वैसा कुछ नहीं है उन्होंने ऐसे ही बोल दिया होगा !”
तनु ने मीरा के हाथ पर अपना हाथ रखा और कहा,”मीरा परेशान मत हो हम दोनों को तुम पर पूरा भरोसा है , अक्षत की हालत देखकर ही समझ आ रहा है की उसके मुंह से अनजाने में ये बात निकली है ,, तुम आराम से खाना खाओ !!
तनु की बातो से मीरा को थोड़ी तसल्ली मिली !! अक्षत गया तो फिर वापस ही नहीं आया ! खाना खाने के बाद मीरा जब हाथ धोकर लौटी तो उसे याद आया की मोना अभी तक बाथरूम में ही बंद है ! वह जैसे ही निचे जाने लगी अक्षत ने कहा,”कहा जा रही हो ?”
“वो मोनालिसा अभी तक बाथरूम में ही है”,मीरा आधी बात कहकर चली गयी ! अक्षत को कुछ समझ नहीं आया वो सोचता रहा जब तक उसे मीरा की बात समझ में आयी मीरा जा चुकी थी उसने खुद से कहा,”ओह्ह्ह गॉड , मीरा नहीं जानती मोना कितनी बद्तमीज है !! मुझे जाना होगा “
अक्षत भी सीढिया उतरकर निचे आया ! मीरा ने जैसे ही दरवाजा खोला मोना गुस्से से दनदनाते हुए बाहर आयी और चिल्लाकर कहा,’हेव यू लोस्टेड , मुझे यहाँ बंद करके कहा चली गयी थी तुम ? तुम्हे तो मैं,,, “, कहते हुए मोना ने जैसे ही मीरा को मारने के लिए हाथ उठाया अक्षत मीरा के सामने आ गया और मोना का हाथ पकड़कर कहा,”बी इन योर लिमिट्स , मोना ! मीरा की इसमें कोई गलती नहीं है , तुम गलती से यहाँ बंद हो गयी थी !”
मीरा अक्षत के बिल्कुल पीछे खड़ी थी ! मोना ने जब ये देखा तो उस से बर्दास्त नहीं हुआ उसने अक्षत को ऊँगली दिखाते हुए कहा,”नाउ यू सी मिस्टर अक्षत व्यास , इस लड़की के साथ मैं क्या करती हु ?”
मोना ने निचे पड़ा अपना बैग उठाया और गुस्से में पैर पटकते हुए वहा से चली गयी ! अक्षत मीरा की और पलटा और कहा,”तुम ठीक हो ?”
“हम्म्म्म !”,मीरा ने कहा !
“चलो यहाँ से !”,अक्षत ने कहा और जाने लगा लेकिन मीरा वही रुक गयी अक्षत पलटा और कहा,”क्या हुआ ? चलो “
“आपसे एक बात पूछे !”,मीरा ने कहा
“हम्म्म्म !”,अक्षत ने कहा
“आपके और मोना के बिच जो रिश्ता है वो हम समझ नहीं पा रहे है !”,मीरा ने कहा
अक्षत मीरा के पास आया और कहा,”ये समझ लो की ये मेरी जिंदगी का सबसे बदसूरत सच है !!”
अक्षत ने जैसे ही कहा उसके चेहरे पर उभरा दर्द मीरा ने देख लिया और उसके बाद उसकी अक्षत से कुछ और पूछने की हिम्मत नहीं हुई !! दोनों वहा से बाहर आ गए ! नीता के घरवालों ने सभी को अच्छे दिए ! विजय ने सबको रात में होने वाली पार्टी के लिए इन्वाइट किया और घर के लिए निकल गए ! आते वक्त निधि भी अक्षत वाली गाड़ी में तनु , जीजू , मीरा के साथ चली आयी इस बार जीजू आगे बैठे थे ! काव्या को नींद आ गयी थी वह तनु की गोद में दुबक कर सो गयी थी ! निधि दीदी और जीजू ही बाते कर रहे थे बाकि मीरा और अक्षत खामोश थे ! गाड़ी में लगे मिरर में मीरा को अक्षत का चेहरा साफ दिखाई दे रहा था ! उसके चेहरे पर उदासी फिर घिर आयी थी ! जाते जाते मोना अपने साथ अक्षत की मुस्कराहट भी लेकर चली गयी थी !!!
सभी घर लौट आये ! मीरा भी कमरे में चली आयी शीशे के सामने खड़ी खुद को देखते हुए उसकी आँखों के सामने आज की सगाई के सारे खूबसूरत पल उसकी आँखो के सामने आने लगे ! मन ही मन मुस्कुराते हुए वह कानो के झुमके उतार रही थी लगा जैसे अक्षत उसकी बगल में ही खड़ा उसे प्यार से देख रहा रहा है ! ये अनछुए अहसास मीरा को कब छूने लगे उसे पता ही नहीं चला ! अक्षत उसके पास आया और अपने होंठ मीरा के कंधे से छू लिए ! मीरा जैसे ही पलटी वहा कोई नहीं था ! उसने अपना सर पिट लिया और बेड पर बैठ गयी ! ये क्या हो रहा था ? और क्यों हो रहा था ? मीरा इन सबसे ही अनजान थी !! रात के फंक्शन के लिए मीरा ने सफ़ेद रंग का चूड़ीदार सूट पहना बालो को गूंथकर चोटी बना ली ! सिंपल लुक में वह और भी खूबसूरत लगती थी ! मीरा जैसे ही कमरे से बाहर आयी सामने बालकनी में खड़े अक्षत पर उसकी नजर चली गई ! अक्षत फिर सिगरेट पि रहा था !! मीरा उसके पास आयी और हाथ से सिगरेट छीनकर कहा,”जिनके सीने में पहले से इतनी आग भरी हो , वो आग को मुंह नहीं लगाया करते !”
मीरा के सिगरेट फेकने पर अक्षत को बुरा नहीं लगा बल्कि उसने मुस्कुराते हुए कहा,”कभी कभी सिगरेट के धुंए में अपनी फ़िक्र उड़ाने की कोशिश करता हु ! लेकिन वो और बढ़ जाती है !”
“वो इसलिए क्योकि आप बहुत ज्यादा सोचते है !”,मीरा ने कहा
“जिन चीजों को बदला नहीं जा सकता उनके बारे में सोचना पड़ता है’,अक्षत अब सीरियस हो चुका था मीरा ने बात बदलने के लिए कहा,”अर्जुन भैया की सगाई की पार्टी है , आप निचे नहीं चल रहे !”
“मन नहीं है !”,अक्षत ने कहा !!
” लेकिन आप नहीं जायेंगे तो हमारा मन नहीं लगेगा !”,मीरा ने मासूमियत से कहा
“वो क्यों ?”,अक्षत ने उसकी और देखकर कहा !!
“अब इस घर में कोई और तो है नहीं जिसको हमे परेशान करके ख़ुशी मिलेगी ! अब आप नहीं होंगे तो कोई परेशान नहीं करेगा और ऐसे तो हम बोर हो जायेंगे ना”,मीरा ने कहा
अक्षत मुस्कुराने लगा ! अक्षत को मुस्कुराता देखकर मीरा को सुकून मिला ! वह जाने लगी जाते जाते रुकी और कहा,”तो आ रहे है ना आप ?”
“ह्म्म्मम्म”,अक्षत ने कहा !
मीरा जाने लगी तो अक्षत ने फिर कहा,”मीरा !
“जी !”,मीरा ने रुककर अक्षत की और पीठ करके कहा अक्षत भी उसकी और पीठ किये खड़ा रहा और कहा,”तुम्हारी पायल कहा है ?”
“अलमारी में रखी है !”,मीरा ने शांत स्वर में कहा !
“तुमने पहनी क्यों नहीं ?”,अक्षत ने फिर सवाल किया
“उस पायल में जो घुंघरू है , उन्हें पहनकर चलो तो वो बहुत आवाज करते है , और आपको उनका शोर पसंद नहीं है !”,मीरा ने कहा
अक्षत कुछ देर खामोश रहा और कहा,”पहन लो !”
“क्या सच में ?”,मीरा ने जल्दी से पलटकर कहा
“हम्म्म्म !”,अक्षत नहीं पलटा !
मीरा जल्दी से कमरे में गयी अलमारी से पायल निकाली और पहन ली ! छम छम करते हुए वह कमरे से बाहर आयी अक्षत अभी भी वही खड़ा था ! मीरा मस्कुराते हुए निचे चली आयी अक्षत ने उसे जाते हुए देखा और कहा,”जिन्हे तुम शोर समझ रही हो मीरा वो मेरा सुकून है !!”
मीरा निचे आकर राधा का हाथ बटाने लगी और अक्षत तैयार होने कमरे में चला आया ! उसने सफ़ेद रंग का कुर्ता पहना जिसके गले पर लाल रंग की बारीक़ किनारी थी ! अक्षत उसमे बहुत प्यारा लग रहा था ! कुर्ते के गले पर 4 बड़े बटन भी थे पर दूसरे नंबर वाला बटन बार बार चुभ रहा था अक्षत उसे सही करते हुए बाहर आया ! तभी सीढ़ियों पर आती मीरा दिखी तो अक्षत ने उसे पास बुलाया और कहा,”ये बटन टूट गया , इसे लगा दोगी प्लीज़ !!”
“हम्म्म्म , आप रुकिए हम सुई धागा लेकर आते है !”,मीरा जैसे ही जाने लगी अक्षत ने रोककर कहा,”मेरे पास है !!”
अक्षत ने सुई धागा मीरा को थमा दिया ! मीरा उसके थोड़ा करीब आयी और बटन को उसकी सही जगह रखकर लगाने लगी ! बटन लगाते हुए मीरा ने कहा,”ये निकला कैसे ?”
“चुभ रहा था तो मैंने ही निकाल दिया !”,अक्षत ने धीरे से कहा क्योकि मीरा उसके बहुत करीब थी और ऐसे में उसके दिल का हाल बहुत बुरा था ! मीरा ने बटन लगाया और मुंह से धागा तोड़कर कहा,”कुछ रिश्ते भी चुभन देने वाले होते है , उन्हें भी वक्त पर निकालकर फेंक देना चाहिए !”
अक्षत ने कुछ नहीं कहा बस मीरा की आँखों में देखता रहा और सब भूल गया !!! मीरा भी सब भूलकर अक्षत की आँखों में देखती रही ! उन्हें पता ही नहीं चला कब जीजू और अर्जुन ऊपर चले आये है ! दोनों कुछ दूर पहले ही रुक गए और जीजू ने अर्जुन से कहा,”देखो मैंने कहा था ना दोनों के बिच कुछ ना कुछ तो जरूर है !
“हो सकता है किसी ने उन्हें स्टेच्यू किया हो”,अर्जुन ने कहा क्योकि वो कभी मीरा और अक्षत को साथ लेकर ऐसी सोच नहीं रखता था उसका मानना था मीरा और अक्षत दोनों एक दूसरे से अलग है !
“यार तुम कितने पागल हो , तुम्हारा ससुर क्या सोच कर लड़की दे रहा है तुमको ,, दिखाई नहीं देता दोनों कितने पास खड़े है , एक दूसरे की आँखों में देख रहे है , पलके तक नहीं झपका रहे !! मतलब कुछ तो पक रहा है !!”,जीजाजी ने कहा
“हां बिल्कुल पक रहा है , आपकी बातो से मेरा सर ,, अब मैं जा रहा हु आप भी चलो !!”,अर्जुन खींचते हुए उन्हें निचे ले गया और अक्षत मीरा एक दूसरे की आँखों में देखते हुए खड़े रहे ! खुद से बेखबर , घरवालों से बेखबर , इस जहा से बेखबर अगर कुछ मौजूद था तो वो थे दोनों के अहसास !!!

Kitni Mohabbat Hai - 20
kitni-mohabbat-hai-20

क्रमश – Kitni mohabbat hai – 21

Read more – kitni-mohabbat-hai-19

Follow me on – facebook

Follow me on – instagram

संजना किरोड़ीवाल

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!