Tag: #Relationship

पाकिजा – एक नापाक जिंदगी 37

Pakizah – 37 Pakizah – 37 “ये तुम दोनों के लिए मेरी तरफ से शादी का तोहफा है” , राघव ने मुस्कुराकर शिवेन से कहा l “तू होश के तो है , ये मैं कैसे रख सकता हु यार”,शिवेन ने हैरान...

पाकिजा – एक नापाक जिंदगी 36

Pakizah – 36 Pakizah – 36 “असलम खान कुरैशी” रुद्र ने जैसे ही ये नाम पढ़ा उसकी आंखों में एक चमक उभरी उसने किताब बन्द की ओर सोचने लगा l “ये क्या मतलब असलम पाकिजा को पहले से जानता है और...

पाकिजा – एक नापाक जिंदगी 35

Pakizah – 35 Pakizah – 35 “एक वेश्या के बेटे से आखिर इस से ज्यादा ओर क्या उम्मीद की जा सकती है”,अविनाश जी ने शिवेन से ये कड़वे शब्द कहे ओर वहां से चले गए “वेश्या का बेटा” शिवेन को छोड़कर...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 34

Pakizah – 34 Pakizah – 34 “मैं दूंगा गवाही”,कहते हुए वह सख्स थाने के अंदर आया सबकी नजरे उस पर जम गयी l सभी हैरानी से उसे देख रहे थे पर कोई सबसे ज्यादा हैरान था तो वो थी सोनाली…………………..!! सामने...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 33

Pakizah – 33 Pakizah – 33 कॉन्स्टेबल की बात शिवेन के सीने में चुभ सी गयी l वह आकर गाड़ी में बैठा l “अब कहा चलना है अपनी बेइज्जती करवाने ?”,राघव ने गुस्से से ड्राइवर सीट पर बैठते हुए कहा शिवेन...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 32

Pakizah – 32 Pakizah – 32 पाकीजा की कहानी में अपना नाम पढ़कर रूद्र एकदम से चौंक गया l उसने किताब बंद कर दी l घडी की तरफ देखा जो की सुबह के 5 बजा रही थी l पाकीजा की कहानी...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 30

Pakizah – 30 Pakizah – 30 शिवेन ने पाकिजा को अम्माजी के पास छोड़ा और जल्दी आने का कहकर राघव ओर मयंक को घर छोड़ने के लिए चला गया l शिवेन चुपचाप किसी सोच में डूबा गाड़ी चला रहा था l...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 29

Pakizah – 29 Pakizah – 29 शिवेन ने जैसे ही दरवाजा खोला सामने अपने पापा को देखकर चौंक गया l आज से पहले अविनाश कभी शिवेन से मिलने यहाँ नहीं आया था पर आज उनका यु अचानक से आना शिवेन को...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 28

Pakizah – 28 Pakizah – 28 पाकिजा की आंखो में आंसू देखकर सोनाली बिना कुछ कहे वहां से चली गयी l पाकिजा ने दरवाजा बंद किया और आकर बिस्तर पर लेट गयी l शिवेन का चेहरा उसकी आँखों मे घूमने लगा...

पाकीजा – एक नापाक जिंदगी 27

Pakizah – 27 Pakizah – 27 शिवेन पाकीजा को पहले से तय जगह पर लेकर पहुंचा l पाकीजा ने देखा तो आँखे खुली की खुली रह गयी सामने दूर तक समंदर फैला हुआ था l चारो तरफ दियो से सजावट की...
error: Content is protected !!