Tag: #kanpuriyaishq

मनमर्जियाँ – S100

Manmarjiyan – S100 Manmarjiyan – S100 गुड्डू ने जो किया वो शगुन के लिए बहुत बड़ी बात थी। उसकी आँखों में आंसू थे लेकिन ख़ुशी के ,, अमूमन लोग जब गलतिया करते है तो माफ़ी मांगते है और सब भूल जाते...

मनमर्जियाँ – S99

Manmarjiyan – S99 Manmarjiyan – S99 पाठको के साथ साथ मुझे भी लगता था की अब तक गुड्डू सुधर जाएगा लेकिन उसकी शरारतें अभी भी वैसी ही थी। मेहँदी में गुड्डू और गोलू को शामिल ही नहीं होने दिया गया तो...

मनमर्जियाँ – S98

Manmarjiyan – S98 Manmarjiyan – S98 शगुन गुड्डू के लिए खाना लेकर आयी लेकिन गुडू सो चुका था। शगुन ने गुड्डू को कम्बल ओढ़ाई और खाने की प्लेट लेकर वापस नीचे चली आयी उसे अकेले देखकर प्रीति ने कहा,”दी जीजू कहा...

मनमर्जियाँ – S96

Manmarjiyan – S96 Manmarjiyan – S96 गुड्डू बनारस के दशाश्वमेध घाट की सीढ़ियों पर खड़ा उठक बैठक निकाल रहा था और शगुन भीगी आँखों से उसे देख रही थी। जब शगुन ने गुड्डू के मुंह से वो सब बातें सुनी तो...

मनमर्जियाँ – S94

Manmarjiyan – S94 Manmarjiyan – S94 गुड्डू के सामने मिश्रा जी ने सारी सच्चाई रख दी। उन्हें गुड्डू की यादास्त से ज्यादा फ़िक्र शगुन और उसके रिश्ते की थी। उन्होंने जब गुड्डू को सच बताया तो गुड्डू को बहुत दुःख हुआ।...

मनमर्जियाँ -S93

Manmarjiyan – S93 Manmarjiyan – S93 शगुन के साथ किये बर्ताव का गुड्डू को बहुत अफ़सोस था। शगुन के जाने के बाद वह बिल्कुल अकेला हो चुका था। घर में हर जगह उसे शगुन दिखाई दे रही थी उसकी यादो से...

मनमर्जियाँ – S92

Manmarjiyan – S92 Manmarjiyan – S92 शगुन बनारस में थी और गुड्डू कानपूर , दोनों एक दूसरे से अलग , दोनों एक दूसरे से दूर। शगुन जहा गुड्डू से दूर होकर दुखी थी परेशान थी वही गुड्डू को भी शगुन की...

मनमर्जियाँ – S91

Manmarjiyan – S91 Manmarjiyan – S91 शगुन अपने शहर बनारस पहुंची। उसके दिमाग में कई तरह के ख्याल चल रहे थे और मन उलझा हुआ था। प्रीति की शादी के लिए वह बनारस आना चाहती थी पर ऐसे हालातो में नहीं...

मनमर्जियाँ – S90

Manmarjiyan – S90 Manmarjiyan – S90 गुड्डू और शगुन की जिंदगी में एक बार फिर तूफ़ान आ चुका था और इस बार का ये तूफान ऐसा था जिसमे सिर्फ दर्द और आंसू थे। गुड्डू की सलामती के लिए शगुन ने मिश्रा...
error: Content is protected !!