Tag: #Friendship

Love You जिंदगी – 21

Love You Zindagi – 21 सार्थक ने देखा शीतल के चेहरे पर आज कुछ ज्यादा ही चमक थी और आँखों में भी एक अलग ही ख़ुशी दिखाई दे रही थी वह मन ही मन सोचने लगा,”क्या ये सब मैसेज राज के...

Love You जिंदगी – 20

Love You Zindagi – 20 मोंटी माला को गोद में उठाये जैसे ही आगे बढ़ा उसके कदम ठिठक गए सामने रुचिका खड़ी थी और वह गुस्से से मोंटी को घूरे जा रही थी।“रूचि वो,,,,,,,,,,ये,,,,,,,,,,,,,माला,,,,,,,,,,,,,,,मेरी बात सुनो,,,,,,,,,,,,,,,तुम जो समझ रही है वैसा...

Love You जिंदगी – 19

Love You Zindagi – 19 नैना को अपनी पीठ पर उठाये अवि गोआ की खाली सड़क पर चले जा रहा था। चांदनी रात थी और बादलों की ओट में छुपा चाँद अपनी दूधिया रौशनी से पुरे गोआ को नहला रहा था।...

Love You जिंदगी – 18

Love You Zindagi – 18 अवि नैना को लेकर वहा से चला गया। उनके जाते ही एक लड़का लड़की पेड़ के पीछे से बाहर आये और लड़की ने घबराये हुए स्वर में कहा,”अच्छा हुआ भाई आ गए वरना नैना भाभी ने...

Love You जिंदगी – 16

Love You Zindagi – 16 नैना को अपनी पीठ पर उठाये अवि बाहर चला आया। मोंटी रुचिका भी उठ चुके थे और पूल साइड में घूम रहे थे। सार्थक फोन पर किसी से बात करने में बिजी था और शीतल अपने...

Love You जिंदगी – 15

Love You Zindagi – 15 मोंटी , रुचिका , शीतल और सार्थक अपना अपना बैग लिए एयरपोर्ट पहुंचे। शीतल और रुचिका नैना के बारे में बातें किये चली जा रही थी कि उन सबकी नजर कुछ ही दूर खड़ी नैना पर...

Love You जिंदगी – 12

Love You Zindagi – 12 ट्रेफिक से निकलकर नैना अवि को लेकर एक बहुत ही प्यारी सी जगह पहुंची। अवि गाड़ी से नीचे उतरा और देखा नैना उसे लेकर एक झील किनारे आयी थी जहा से कुछ ही दूरी पर एक...

Love You जिंदगी – 8

Love You Zindagi – 8 सार्थक बालकनी से निकलकर अंदर हॉल में चला आया। शीतल उसके लिए चाय ले आयी और उसे देते हुए कहा,”अब तुम्हारा सर दर्द कैसा है ?”“हम्म्म अभी थोड़ा ठीक है”,सार्थक ने कहा और चाय पीने लगा।...

Love You जिंदगी – 7

Love You Zindagi – 7 राज को अपार्टमेंट के बाहर देखकर सार्थक का मूड ऑफ हो गया। ऑफिस में उसकी जरुरी मीटिंग थी लेकिन वह नहीं गया। सार्थक राज के बारे में बार बार सोचना नहीं चाहता था लेकिन फिर भी...

और प्यार हो गया – 25

Aur Pyar Ho Gaya – 25 रात के 11 बजे , खुली सड़क किनारे कार्तिक अकेला बैठा अपनी दास्तान सुना रहा था l उस वक्त उस कुत्ते के अलावा वहा कोई नहीं था और पिछले एक घंटे से वह कुत्ता बिना...
error: Content is protected !!